गुरुदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर के प्रेरक अनमोल विचार

www.lovelywishes4all.com

हम दुनिया को गलत पढ़ते हैं और कहते हैं कि यह हमें धोखा देती है।”

www.lovelywishes4all.com

“संगीत दो आत्माओं के बीच की अनंतता को भर देता है।”

www.lovelywishes4all.com

“पुरुष क्रूर हैं, लेकिन मनुष्य दयालु है। “

www.lovelywishes4all.com

आप केवल खड़े होकर और पानी को देखते हुए समुद्र को पार नहीं कर सकते।”

www.lovelywishes4all.com

आप केवल खड़े होकर और पानी को देखते हुए समुद्र को पार नहीं कर सकते।”

www.lovelywishes4all.com

“खुश रहना बहुत आसान है, लेकिन सरल रहना बहुत मुश्किल है।”

www.lovelywishes4all.com

“विश्वास वह पक्षी है जो उजाले को महसूस करता है जब भोर अभी भी अंधेरा है।”

www.lovelywishes4all.com

जब मैं खुद पर हँसता हूँ तो मेरे ऊपर से मेरा बोझ कम हो जाता है।

www.lovelywishes4all.com

जो मन की पीड़ा को स्पष्ट रूप में नहीं कह सकता, उसी को क्रोध अधिक आता है।

www.lovelywishes4all.com

आस्था वो पक्षी है जो सुबह अँधेरा होने पर भी उजाले को महसूस करती है।

www.lovelywishes4all.com